खोदावंदपुर/बेगूसराय। बरियारपुर पश्चिमी पंचायत में बुधवार को पहली बार धरातल पर ग्रामसभा हुई. पंचायत भवन परिसर में ग्रामीणों की भीड़ जुटी. ग्रामसभा की अध्यक्षता करते हुए पंचायत के नवनिर्वाचित मुखिया बाबू प्रसाद वर्मा ने पंचायत भवन परिसर में इस तरह की ग्रामसभा पहले कभी नहीं होने की बात कहीं.मुखिया ने कहा कि पंचायत की जनता ने विगत पंचायत चुनाव में जिस तरह का उत्साह दिखाया, उसका वह सम्मान करते हैं.उन्होंने कहा कि पिछले कार्यावधि के पंचायत प्रतिनिधि कागज पर ही योजनाओं को क्रियान्वित करते थें. जिसके कारण गरीब गुरवे लोगों की समस्याएं दूर नहीं होती थी. राशन कार्ड, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, आवास योजना समेत विभिन्न योजनाओं के लाभ के लिए लोगों को प्रखंड मुख्यालय से जिला मुख्यालय तक का चक्कर लगाना पड़ता था. मुखिया श्री वर्मा ने कहा कि उनके कार्यकाल में सभी योजनाओं को पारदर्शी बनाया जायेगा.इसके लिए आमजनों का सहयोग एवं मार्गदर्शन जरूरी है.उन्होंने कहा कि वह पंचायत के समुचित विकास के लिए हमेशा तत्पर रहेगें और सभी सरकारी योजनाओं का लाभ जरुरतमंद लोगों को दिलवाया जायेगा.बरियारपुर पश्चिमी पंचायत की जनता को कहीं भटकने की जरूरत नहीं होगी.इस मौके पर पंचायत सचिव कृष्ण देव यादव ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन के सभी लाभुकों को अपने जीवित होने का प्रमाण-पत्र आगामी 15 जनवरी तक ऑनलाइन के माध्यम से देना होगा, ताकि उन्हें इस योजना का लाभ मिलता रहेगा.इस मौके पर प्रखंड स्वच्छता समन्वयक रमा तिवारी ने आमजनों को अपने अरोस पड़ोस को साफ रखने, और कचड़ा इधर उधर नहीं फेंकने की सलाह दी. उन्होंने सभी लोगों को शौचालय का उपयोग करने एवं शौचालय नहीं बनवाने वालों को अपने घरों में शौचालय बनवाने की बात कहीं. उन्होंने शौचालय बनवाने वाले लाभुकों को इस योजना की प्रोत्साहन राशि का भुगतान करवाने का भरोसा भी दिया.ग्रामसभा में किसानों ने अपना धान बिक्री नहीं होने की समस्या रखीं.पंचायत के पैक्स अध्यक्ष उमेश प्रसाद गुप्ता ने बताया कि इस वर्ष धान खरीद का लक्ष्य मात्र 150 मेट्रिक टन ही निर्धारित किया गया है. जबकि पंचायत में धान उत्पादन करनेवाले किसानों की संख्या काफी है. उन्होंने कहा कि 1989 ईस्वी में ही बरियारपुर पश्चिमी पैक्स गोदाम बनवाया गया था, जो अब जर्जर हालत में है.

इसकी मरम्मती आवश्यक है. वहीं दूसरी ओर प्रखंड के दौलतपुर, खोदावन्दपुर एवं मेघौल पंचायतों में भी संबंधित पंचायत के मुखिया उमा कुमार चौधरी, शोभा देवी, पुरुषोत्तम सिंह की अध्यक्षता में ग्रामसभा का आयोजन किया गया.संबंधित पंचायत के पंचायत भवन परिसर मेन हुई ग्रामसभा में ग्राम पंचायत विकास योजना से जुड़ी कुल 29 योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए चर्चा हुई एवं प्रस्तावित योजनाओं की सूची बनायी गयी.इन ग्रामसभा में लोगों ने अपनी अपनी समस्याएं रखीं.ग्रामसभा में सरपंच नवीन प्रसाद यादव, उपमुखिया राकेश रामचंद महतो, पंचायत रोजगार सेवक मिथलेश कुमार, आवास सहायक अभिषेक कुमार, समाजसेवी रोहित कुमार, राजेश कुमार, रामप्रकाश चौधरी समेत अन्य लोगों ने भी अपना अपना उदगार व्यक्त की. मौके पर उपसरपंच दिनेश चौधरी, जेई राजवाला वर्मा, लेखापाल दिप्ती पूर्णिमा, कार्यपालक सहायक देव कुमार, वार्ड सदस्य सहित अनेक ग्रामीण मौजूद थे. बेगूसराय के खोदावन्दपुर से राजेश कुमार की रिपोर्ट:-खोदावंदपुर/बेगूसराय। बरियारपुर पश्चिमी पंचायत में बुधवार को पहली बार धरातल पर ग्रामसभा हुई. पंचायत भवन परिसर में ग्रामीणों की भीड़ जुटी. ग्रामसभा की अध्यक्षता करते हुए पंचायत के नवनिर्वाचित मुखिया बाबू प्रसाद वर्मा ने पंचायत भवन परिसर में इस तरह की ग्रामसभा पहले कभी नहीं होने की बात कहीं.मुखिया ने कहा कि पंचायत की जनता ने विगत पंचायत चुनाव में जिस तरह का उत्साह दिखाया, उसका वह सम्मान करते हैं.उन्होंने कहा कि पिछले कार्यावधि के पंचायत प्रतिनिधि कागज पर ही योजनाओं को क्रियान्वित करते थें. जिसके कारण गरीब गुरवे लोगों की समस्याएं दूर नहीं होती थी. राशन कार्ड, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, आवास योजना समेत विभिन्न योजनाओं के लाभ के लिए लोगों को प्रखंड मुख्यालय से जिला मुख्यालय तक का चक्कर लगाना पड़ता था. मुखिया श्री वर्मा ने कहा कि उनके कार्यकाल में सभी योजनाओं को पारदर्शी बनाया जायेगा.इसके लिए आमजनों का सहयोग एवं मार्गदर्शन जरूरी है.उन्होंने कहा कि वह पंचायत के समुचित विकास के लिए हमेशा तत्पर रहेगें और सभी सरकारी योजनाओं का लाभ जरुरतमंद लोगों को दिलवाया जायेगा.बरियारपुर पश्चिमी पंचायत की जनता को कहीं भटकने की जरूरत नहीं होगी.इस मौके पर पंचायत सचिव कृष्ण देव यादव ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन के सभी लाभुकों को अपने जीवित होने का प्रमाण-पत्र आगामी 15 जनवरी तक ऑनलाइन के माध्यम से देना होगा, ताकि उन्हें इस योजना का लाभ मिलता रहेगा.इस मौके पर प्रखंड स्वच्छता समन्वयक रमा तिवारी ने आमजनों को अपने अरोस पड़ोस को साफ रखने, और कचड़ा इधर उधर नहीं फेंकने की सलाह दी. उन्होंने सभी लोगों को शौचालय का उपयोग करने एवं शौचालय नहीं बनवाने वालों को अपने घरों में शौचालय बनवाने की बात कहीं. उन्होंने शौचालय बनवाने वाले लाभुकों को इस योजना की प्रोत्साहन राशि का भुगतान करवाने का भरोसा भी दिया.ग्रामसभा में किसानों ने अपना धान बिक्री नहीं होने की समस्या रखीं.पंचायत के पैक्स अध्यक्ष उमेश प्रसाद गुप्ता ने बताया कि इस वर्ष धान खरीद का लक्ष्य मात्र 150 मेट्रिक टन ही निर्धारित किया गया है.

जबकि पंचायत में धान उत्पादन करनेवाले किसानों की संख्या काफी है. उन्होंने कहा कि 1989 ईस्वी में ही बरियारपुर पश्चिमी पैक्स गोदाम बनवाया गया था, जो अब जर्जर हालत में है. इसकी मरम्मती आवश्यक है. वहीं दूसरी ओर प्रखंड के दौलतपुर, खोदावन्दपुर एवं मेघौल पंचायतों में भी संबंधित पंचायत के मुखिया उमा कुमार चौधरी, शोभा देवी, पुरुषोत्तम सिंह की अध्यक्षता में ग्रामसभा का आयोजन किया गया.संबंधित पंचायत के पंचायत भवन परिसर मेन हुई ग्रामसभा में ग्राम पंचायत विकास योजना से जुड़ी कुल 29 योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए चर्चा हुई एवं प्रस्तावित योजनाओं की सूची बनायी गयी.इन ग्रामसभा में लोगों ने अपनी अपनी समस्याएं रखीं.ग्रामसभा में सरपंच नवीन प्रसाद यादव, उपमुखिया राकेश रामचंद महतो, पंचायत रोजगार सेवक मिथलेश कुमार, आवास सहायक अभिषेक कुमार, समाजसेवी रोहित कुमार, राजेश कुमार, रामप्रकाश चौधरी समेत अन्य लोगों ने भी अपना अपना उदगार व्यक्त की. मौके पर उपसरपंच दिनेश चौधरी, जेई राजवाला वर्मा, लेखापाल दिप्ती पूर्णिमा, कार्यपालक सहायक देव कुमार, वार्ड सदस्य सहित अनेक ग्रामीण मौजूद थे|

बेगूसराय के खोदावन्दपुर से राजेश कुमार की रिपोर्ट:-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *