आशीष कुमार की रिपोर्ट

अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सदस्य सह क्षेत्रीय प्रवक्ता बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी प्रो विजय कुमार मिठू, पूर्व सांसद रंजीत सिंह उर्फ रंग बाबू, पूर्व विधायक मो खान अली, जिला उपाध्यक्ष राम प्रमोद सिंह, युगल किशोर सिंह, विद्या शर्मा, अमरजीत कुमार, टिंकू गिरी, ओंकार नाथ सिंह, विनोद उपाध्याय, राजेश्वर पासवान, सतीश कुमार शर्मा, मुकेश कुमार शर्मा उर्फ पिंटू, अमर सिंह, अरुण कुमार पासवान आदि ने कहा की बिहार में पूर्ण शराबबंदी, ड्रोन, हेलीकॉप्टर से निगरानी के बाद भी जहरीली शराब पीने से भागलपुर, बांका, मधेपुरा, जिला में 32 लोगो की मौत एवम दर्जनों के आंख की रौशनी खत्म होने की घटना के लिए आखिर कौन जिम्मेवार है, पुलिस प्रशासन, शराब माफिया, या कोई और इसकी खुलासा करने के बजाय स्थानीय प्रशासन अभी तक मौत के कारण की भी पुष्टि नहीं कर पाई है, जबकि मृतक के परिजन जहरीली शराब पीने से मौत की बात को गुहार कर रहे है।
     नेताओं ने कहा की स्थानीय लोग एवम् मृतक के परिजन पुलिस और शराब माफियाओं के गठजोड़ का आरोप लगा रहे है, नीतीश सरकार के सहयोगी भाजपा के प्रवक्ता जहरीली शराब बेचने वालो पर हत्या की मुकदमा दर्ज करने की मांग कर रहे है।
       नेताओं ने कहा की जहरीली शराब से मरने वाले लोग ज्यादातर गरीब, मजदूर, मध्यवर्गीय परिवार के लोग है जिनकी कमाई से उनका घर, परिवार का खर्च चलता है। जहरीली शराब से मरने वाले परिवारों में चित्कार मचा हुआ है, सरकार द्वारा उनके परिवार की मुआवजा की बाते तो दूर अभी तक सरकारी स्तर पर शराब से मौत की भी पुष्टि नहीं हुई है।
   नेताओं ने दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग सरकार से की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *