आशीष कुमार की रिपोर्ट

  • हिन्दू अभी नहीं चेते तो कश्मीर फाइल्स के बाद जल्द ही भारत फाइल्स फ़िल्म भी बन जायेगी : तोगड़िया

गया। अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद की शाखा राष्ट्रीय बजरंग दल तथा ओजस्विनी की गया जिला इकाई के अधिकारियों व अन्य कार्यकताओं ने पटना के भूतनाथ रोड स्थित स्वागत बैंक्वेट हॉल में अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष भाई डॉ प्रवीण तोगड़िया की अध्यक्षता में आयोजित चैत्र नव संवत्सर अभिनंदन समारोह में हर्षोल्लास के साथ भाग लिया। समारोह का शुभारंभ मुख्य अतिथि डॉ तोगड़िया, स्वामी सुदर्शनाचार्य, प्रांतीय संगठन मंत्री अनिल कुमार व माधव कुमार सहित अन्य मंचासीन अतिथियों द्वारा दीप-प्रज्ज्वलन के साथ हुआ। गणमान्य अतिथियों ने बारी-बारी से कार्यकर्ताओं को शुभकामनाएं दीं। राष्ट्रीय बजरंग दल के विभागाध्यक्ष शशिकांत मिश्रा, कार्याध्यक्ष मुक्तामणि, जिला मंत्री राम कुमार बारिक, ओजस्विनी की जिलाध्यक्ष डॉ रश्मि प्रियदर्शनी, महामंत्री शिल्पा साहनी, जिला मंत्री अमीषा भारती तथा मोनिका कुमारी व ऋषिकेष गुर्दा सहित अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद के कार्यकर्ताओं ने भाई प्रवीण तोगड़िया को श्री विष्णु चरण, अंगवस्त्रम तथा पुष्प गुच्छ प्रदान कर स्वागत किया। दक्षिण बिहार के विभिन्न जिलों से आये सभी कार्यकर्ताओं ने मानवतावाद के सिद्धांतों पर आधारित हिन्दू संस्कृति और सभ्यता के उत्थान पर केन्द्रित श्री तोगड़िया के ओजस्वी वक्तव्य का लाभ उठाया।

कार्यकर्ताओं द्वारा लगातार लगाये जा रहे जय श्री राम के नारों के बीच भाई श्री तोगड़िया ने कहा कि यदि हम हिन्दू सतर्क और सावधान नहीं हुए तो आने वाले समय में कश्मीर फाइल्स की जगह उत्तर बिहार तथा भारत फाइल्स फिल्में बनाने की नौबत आ जायेगी। कश्मीर फाइल्स फिल्म देख कर तालियाँ नहीं छातियाँ पीटी जानी चाहिए। उन्होंने जेहादी इस्लाम की आड़ में हिन्दुओं के कत्ल को अति भर्तस्नीय ठहराते हुए केन्द्र सरकार द्वारा पीड़ित हिन्दू परिवारों को अब तक समुचित न्याय दिला पाने की दिशा में विफल रहने पर चिंता प्रकट की।

डॉ तोगड़िया ने अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद के “गरीबी मुक्त भारत, कर्ज मुक्त किसान, महंगाई मुक्त गृहिणी तथा रोजगार युक्त युवा” के चतुर्संकल्पों को साकार रूप देने हेतु संपूर्ण भारत में अभियान चलाये जाने की बात कही। उन्होंने गरीबों को और गरीब तथा अमीरों को और अमीर बनाने वाली आर्थिक नीतियों के विरुद्ध अपनी आवाज बुलंद करते हुए हिंदुओं के प्राचीन गौरवशाली आर्थिक वैभव को पुनः प्राप्त करने की बात कही। उन्होंने हिन्दू युवाओं को रोजगार मुहैया करवाने की दिशा में शीघ्र ही नये ऐप के लॉन्च किये जाने का विश्वास दिलाया। श्री तोगड़िया ने कहा कि कोई भी गरीब हिन्दू बिना मदद, बिना डॉक्टर, बिना भोजन तथा बिना वकील न रहे, इसे सुनिश्चित करना भी अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद के उद्देश्यों में शामिल है।

श्री तोगड़िया ने ‘वीर हिन्दू, विजेता हिन्दू’ का उद्घोष करते हुए ‘हिन्दू ही आगे’ के मूलमंत्र पर जोर दिया। उन्होंने केन्द्र सरकार से कश्मीर से विस्थापित चार लाख लोगों को बसाने की मांग की। उन्होंने मांग की कि केन्द्र व राज्य सरकारें एक करोड़ रिक्त पदों पर युवाओं को शीघ्र बहाल करें। 18000 से अधिक भारतीय छात्रों का यूक्रेन जैसे देशों में पढ़ने जाने को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए श्री तोगड़िया ने इस संदर्भ में चिंतनोपरांत उपयुक्त कदम उठाये जाने की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने 2 करोड़ युवाओं के बीच राक्षसों का संहार करने वाली माँ दुर्गा के अस्त्र त्रिशूल का वितरण करने की घोषणा करते हुए युवाओं से अधिक से अधिक संख्या में सेना में भर्ती होने की अपील की। श्री तोगड़िया ने मुट्ठी भर चावल के दान से भूखों को भोजन उपलब्ध कराने पर भी जोर डाला। मंचीय कार्यक्रम के उपरांत डॉ तोगड़िया ने दक्षिण बिहार के विभिन्न जिलों से आये राष्ट्रीय बजरंग दल, ओजस्विनी तथा राष्ट्रीय महिला परिषद के अधिकारियों से साथ हुई बैठक में अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद की भावी रणनीतियों पर प्रकाश डालते हुए बाचतीत की। उन्होंने राष्ट्रीय छात्र परिषद के लिए रोजगारन्मुखी योजनाओं पर सविस्तार चर्चा की।

अहिप की गया इकाई को उन्होंने विश्वास दिलाया कि आने वाले दिनों में वे गया में प्रवास करेंगे, किंतु उसके पूर्व तय उद्देश्यों पर कार्यकर्ताओं को कार्य करना होगा। अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद की पहुँच गाँवों और तहसीलों तक होनी चाहिए। चैत्र नव संवत्सर समारोह में लक्ष्मण पांडेय, नितिन उपाध्याय, सौरभ सिंह, विकास जी, मोना शर्मा, विश्वजीत चक्रवर्ती अश्विनी कुमार एवं पी के मोहन आदि की भी भागीदारी रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *