रविन्द्र कुमार शर्मा की रिपोर्ट

  • थाना क्षेत्र के जमगांव निवासी अभिमन्यू कुमार 32 वर्ष उर्फ तुलवा की लाठी, रड और डंडे से पीट-पीट कर अपरधियों ने हत्या कर दी। घटना बुधवार देर रात की बताई जा रही है। घटना के बाबत मृतक के पिता रमानंद सागर ने बताया कि तीन बेटों में मृतक दूसरे नंबर पर था। बलुआचक चौंक स्थित गैराज में काम करता था। लेकिन काम करने के दौरान बुधवार की शाम करीब साढ़े आठ बजे राजेश मंडल ने कहा कि तुम सिर्फ बड़े वाहन का मरम्मत कर सकते हो छोटे वाहनों का काम नही करना है। इसी बात को लेकर राजेश मंडल, शंकर मिस्त्री के सभी परिवार के सदस्यों के द्वारा लाठी, डंडे और लोहे के रड से बेहरमी से पीटने लगा। जान बचाने के लिए जब बेटा बगल के घर में छिपने लगा तो अनिल मंडल और सुनिल मंडल ने घक्का देकर घर से बाहर निकाल दिया। फिर सभी लोगों ने जान मारने के नियत से अधमरा कर दिया। घटना की जानकारी घायल अभिमन्यू ने ही घर वालों को दिया। सूचना मिलने पर घर वालों ने घायल को घर लाया और गांव में ही निजी चिकित्सकों से इलाज कराने लगा। इलाज के दौरान ही रात्रि करीब एक बज कर बीस मिनट में अभिमन्यू की मौत हो गई। साथ ही मृतक के स्वजनों ने बताया कि मृतक तीन भाई है बड़ा बेटा दिल्ली में काम करता है। दूसरा नवगछिया में एक गैराज में मिस्त्री का काम करता है। जबकी मृतक को एक बेटा और तीन वर्ष की बेटी है। वहीं घटना की सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव को जब्त कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। साथ ही संदेह के आधार पर तीन लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *